Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023 |योजना के तहत 13 से अधिक कोर्स में फ्री कौशल ट्रेनिंग जाने कैसे?

  • Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023 का ध्येय गरीब ग्रामीण युवाओं को कौशल प्रदान करना और उन्हें कम से कम समर्थन मजदूरी के ऊपर मासिक मजदूरी प्रदान करना है।
  • योजना की शरुआत करने से लगभग 55 मिलियन से ज्यादा  ग्रामीण युवाओं को लाभ होगा जो एक स्थाई रोजगार का सर्जन करेगा।
  • यह योजना मेक इन इंडिया के माध्यम से शुरू किया गया है और स्किल्ड युवा यदि किसी  मैन्युफैक्चरिंग से संबंध कोई रोजगार शुरु करता है तो उसे सरकार के तहत आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी।
  • ग्रामीण इलाकों में रहने वाले सभी युवाओं को सरकार के तहत ₹100000 तक की वित्तीय सहायता देकर उन्हें सेल्फ इंप्लॉयड के लिए प्रेरित किया जाएगा।
  • इस योजना के अंडर जिन युवाओं को ट्रेनिंग दी जाएगी उनमें से 75% युवाओं को सरकार के माध्यम से रोजगार प्रदान करने का ध्येय रखा गया है।
  •  इस योजना के अंडर इंजीनियरिंग, मेडिकल, साइंस, आईटीआई या तो औद्योगिक और यदि किसी भी फील्ड में युवाओं को अभ्यास दिया जा रहा है तो  उनमें से 75% युवाओं को नौकरी मिलना ही चाहिए।
  •  इस योजना के अंडर महिलाओं का भी खासा ध्यान रखा गया है  जिसमे 75% लोगों को नौकरी दी जाएगी उनमें से एक तिहाई संख्या महिलाओं की भी दी जायेगी या योजना के अंतर्गत मेक श्योर किया गया है।
  • दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना में गांव-गांव विजिट करके ग्रामीण इलाको के युवाओं को इकट्ठा करके उन्हें  उनकी कुशलता का पहचान करवाके उनको कौशल प्रदान किया जाएगा।

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के माध्यम से स्किल और प्लेसमेंट-

  • ग्रामीण इलाको के युवाओं का पहचान करना जो गरीब है उन्हें कौशल प्रशिक्षण प्रदान करवाना है।
  • रुचि रखने वाले ग्रामीण युवाओं की पहचान कर उन्हें  संगठित करना है।
  • युवाओं और अभिभावकों की काउंसलिंग करवाना है।
  •  योग्यता के आधार पर उनका सिलेक्शन करना है।
  • उन्हें ऐसी नौकरी प्रदान करवाना है जिन्हें independed जांच के लिए खड़ा किया जा सके।
  •  कम से कम मजदूरी से ऊपर का भुगतान करवाना भी ज़रूरी है।
  •  नियोग के बाद स्थिरता के लिए नियुक्त व्यक्ति का समर्थन करना होता है।
  • इस योजना की प्राथमिकता विदेशी प्लेसमेंट करवाना

 चैंपियन नियोक्ता-PIAजो 2 वर्ष के समय में कम से कम 10000 युवाओं को कौशल प्रशिक्षण और नियुक्ति का विश्वास दे सकती हो।

Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023 Highlight

योजना का नामदीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना 2023
किसके द्वारा शुरू की गईसरकार द्वारा
योजना की शुरुआत कब हुई25 सितंबर 2014
योजना के लाभार्थीभारतवर्ष की युवा
योजना की आधिकारिक वेबसाइटhttp://ddugky.gov.in/
योजना से संबंधित संपर्क सूत्रOffice Address: Rural Skills Division, Ministry of Rural Development, 7th Floor, NDCC-II Building, Jai Singh Road, New Delhi-110001 Office Time: 9:30 A.M. – 5:30 P.M
वर्तमान में योजना की स्थितिअभी चालू है
प्लेसमेंट का प्रतिशतकम से कम 75%
मंत्रालय का नामकौशल विकास और उद्यमिता एवं आजीविका विभाग
Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023 Highlight

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के सभी लाभ-

  • दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना  के अंतर्गत 15 से 35 वर्ष तक के सभी युवाओं को रोजगार प्रदान कराना और उनके अन्दर स्किल को परिपक्व करना
  •  इस योजना का एक लाभ  यह भी  है कि ₹25696 से लेकर ₹100000 तक का वित्तीय सहायता उन्हें प्रदान की जाएगी और उनकी कुशलता बढ़ाने के लिए ।
  • ट्रेनिंग के लिए यह कंटीशन रखी गई है कि 75% युवाओं को रोजगार मिलने ही मिलने चाहिए।
  •  इस योजना के अंडर 5.5 करोड़ युवाओं को कुशलता परिपक्व कर उन्हें रोजगार प्राप्त कराना है।
  •  इस योजना के अंडर लोन प्रधानमंत्री रोजगार प्रलोभना योजना के जरिए आसानी से लोन प्राप्त किया जा सकता है।
  •  योजना के अंडर ही जिला उद्योग केंद्र से उद्योग के लिए 4% ब्याज पर लोन ले सकते हैं ।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार 3 महीने से लेकर 12 महीने तक युवाओं को अभ्यास के लिए संस्था को वित्तीय सहायता पप्राप्त करती है।

Pandit Dindayal Upadhyay Yojana के अंडर पूरे देश में लगभग 11,05,161 युवाओं को अभ्यास दिया जा चुका है।जिनमे से कुल 6,42,357 युवाओं को रोज़गार मिल ही चुका है।

Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023
Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023 Highlight

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना का विस्तार-

यह योजना पूरे भारतवर्ष में लागू है इस योजना को सामायिक समय में 33 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेश, में टोटल 610 जिलों में लागू किया गया है जिनमें से सामायिक में 202 से ज्यादा  PIA  है जो 50 से ज्यादा क्षेत्रों में 250 से ज्यादा ट्रेड को कवर करती है।

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना में किन किन क्षेत्रों के लिए ट्रेनिंग दी जाती है?

 Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023 के अंडर युवाओं को हॉस्पिटल, अट ऑटोमोबाइल, पाइपलाइन, आर्नामेंट्स, खुदरा कारोबार, कंप्यूटर से संबंध विषय, चमड़ा, बिजली, रत्न आभूषण आदि क्षेत्रों में युवाओं को ट्रेनिंग दी जाती है।

Also Read : HDFC Bank Education Loan 2023: हर स्टूडेंट को मिलेगा 45 लाख का एज्यूकेशन लोन, जाने पात्रता और ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

दीनदयाल उपाध्याय कौशल योजना के अनिवार्य दस्तावेज-

  • आवेदक  छात्र का आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • आयु प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • स्थाई निवासी प्रमाण पत्र
  • तीन पासपोर्ट साइज फोटो

Also Read: Ladli Laxmi Yojana 2023: सरकार की तरफ से हर बेटी को मिलेंगे 1 लाख 43 हजार रुपये

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल विकास योजना में आवेदन की प्रोसेस ।

  • Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023 में आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको योजना से संबंधित आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • योजना की आधिकारिक वेबसाइट के  एक होम पेज होंगा वहा पर न्यू रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन दिखेगा इस पर क्लिक करें।
  • क्लिक करने के बाद अब आपके सामने एक नया फॉर्म खुलेगा इस फॉर्म में मांगी जाने वाली सभी जानकारि ,मोबाइल नंबर आदि ध्यानपूर्वक भर दे ।
  • और उससे संबंधित सभी डॉक्यूमेंट को स्कैन करके अपलोड करें।
  • ऊपर बताई गई सभी प्रोसेस को पूरा करने के बाद फॉर्म को अब सबमिट कर दे इस तरह आपका आवेदन हो जाएगा।
  •  आवेदन के बाद आवेदन की सबमिशन का फाइनल प्रिंट आउट निकाल कर अपने पास सुरक्षित रख लें।

FAQ (बार बार पूछे जाने वाले प्रश्न)

Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023 क्या है?

Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023 (ग्रामीण) (डीडीयू-जीकेवाई) ग्रामीण गरीब युवाओं को नौकरियों में नियमित रूप से न्यूनतम मजदूरी के बराबर या उससे अधिक मासिक मजदूरी प्रदान करने का लक्ष्य रखता है। यह ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा ग्रामीण युवाओ की आजीविका को बढ़ावा देने के लिए की गई पहलों में से एक है।

Deen Dayal Upadhyay Grameen Kaushalya Yojana 2023 कब शुरू हुई?

भारत सरकार ने ग्रामीण ओर शहरी गरीबों के लिए दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना का आरंभ 25 सितंबर 2014 को किया। योजना का मुख्य उद्देश्य कौशल विकास और अन्य उपायों के माध्यम से आजीविका के अवसरों में वृद्धि कर  ग्रामीण और शहरी गरीबी को कम करना है।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय कौशल विकास योजना में कितना पैसा मिलता है?

कौशल विकास स्कीम के अंतर्गत प्रशिक्षण लेने वाले लाभार्थियों या युवाओं को भारत सरकार द्वारा प्रशिक्षण पूर्ण होने के बाद 8000 रूपए की धनराशि दी जाती है

Leave a Comment